LYRIC

मोहन से दिल क्यूँ लगाया है यह मैं जानू या वो जाने भजन लिरिक्स हिंदी (Mohan Se Dil Kyun Lagaya Hai Yeh Main Jaanu Ya Vo Jaane Lyrics in Hindi)

 

मोहन से दिल क्यूँ लगाया है, यह मैं जानू या वो जाने ।
छलिया से दिल क्यूँ लगाया है, यह मैं जानू या वो जाने ॥

🎵🎵🎵🎵🎵🎵🎵🎵🎵🎵🎵🎵🎵🎵🎵

हर बात निराली है उसकी, कर बात में है इक टेडापन  ।
टेड़े पर दिल क्यूँ आया है, यह मैं जानू या वो जाने ॥

🎵🎵🎵🎵🎵🎵🎵🎵🎵🎵🎵🎵🎵🎵🎵

जितना दिल ने तुझे याद किया, उतना जग ने बदनाम किया ।
बदनामी का फल क्या पाया हैं, यह मैं जानू या वो जाने ॥

🎵🎵🎵🎵🎵🎵🎵🎵🎵🎵🎵🎵🎵🎵🎵

तेरे दिल ने दिल दीवाना किया, मुझे इस जग से बेगाना किया ।
मैंने क्या खोया क्या पाया हैं, यह मैं जानू या वो जाने ॥

🎵🎵🎵🎵🎵🎵🎵🎵🎵🎵🎵🎵🎵🎵🎵

मिलता भी है वो मिलता भी नहीं, नजरो से मेरी हटता भी नहीं ।
यह कैसा जादू चलाया है, यह मैं जानू या वो जाने ॥

Added by

Anju Thakur

SHARE

Your email address will not be published.

ADVERTISEMENT

VIDEO

AllEscort